क्रिस गेल ने फ्रेंचाइजी टीमों पर लगाया गंभीर आरोप, रन नहीं बनने पर टीमें मुझे बोझ समझने लगती हैं

जोहानिसबर्ग : क्रिस गेल जब फार्म में होते हैं तो फ्रेंचाइजी क्रिकेट में उनकी काफी मांग रहती है, लेकिन वेस्टइंडीज के इस विस्फोटक बल्लेबाज का मानना है कि जब भी वह इस तरह की टी20 लीग में नाकाम रहते हैं तो वह अपनी टीमों के लिये बोझ बन जाते हैं। इस 40 वर्षीय सलामी बल्लेबाज ने एमएसएल में जोजी स्टार्स के लिये छह पारियों में केवल 101 रन बनाये।

ईएसपीएन क्रिकइन्फो के अनुसार गेल ने कहा, ‘‘जैसे ही मैं दो या तीन मैचों में अच्छा प्रदर्शन नहीं करता हूं, वैसे ही क्रिस गेल टीम के लिये बोझ बन जाता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं केवल इस टीम की ही बात नहीं कर रहा हूं। फ्रेंचाइजी क्रिकेट खेलते हुए पिछले कई वर्षों में मैंने यह आकलन किया है। अगर मैं दो, तीन या चार पारियों में रन नहीं बनाता हूं तो क्रिस गेल बोझ बन जाता है। ऐसा लगता है कि एक खास व्यक्ति टीम के लिये बोझ है।’’