BJP विधायक के बयान से नाराज कांग्रेस, मौन व्रत रखकर जताया विरोध

ग्वालियर: इंदौर से बीजेपी विधायक उषा ठाकुर द्वारा महात्मा गांधी के हत्यारे को राष्ट्रवादी बताने के बाद राजनीतिक पारा चढ़ गया है। कांग्रेस इसे आधार बनाकर बीजेपी का जमकर घेराव कर रही है। वहीं दूसरी तरफ जिले में गोडसे की मूर्ति स्थापित करने के विरोध में सुबह शहर जिला कांग्रेस कमेटी ने महात्मा गांधी की प्रतिमा के नीचे 8 बजे से 9 बजे तक मौन बैठकर धरना दिया और अपनी निराशा जताई।

क्या कहा था उषा ठाकुर ने
एक पत्रकार वार्ता में विधायक ऊषा ठाकुर ने महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को राष्ट्रवादी बताया था। उषा ठाकुर ने कहा था कि नाथूराम गोडसे राष्ट्रवादी हैं, उन्होंने जीवनभर देश की चिंता की। उस समय क्या काल और परिस्थिति रही होगी जो उन्होने गांधी की हत्या का फैसला लिया। हमे इस पर टिप्पणी नहीं करनी चाहिए। उनके इस बयान से बीजेपी सवालों के घेरे में हैं।

मौन धरने में अध्यक्ष डॉ देवेंद्र शर्मा, विधायक मुन्नालाल गोयल,प्रवक्ता आनंद शर्मा, वरिष्ठ नेता बालखांडे, अशोक प्रेमी, दिनेश जैन, बसंत शर्मा, तरुण यादव, सरोज मिश्रा, सीमा समाधिया,रुचिका राय सहित पार्षद,पूर्व पार्षद, प्रदेश एवं जिला कांग्रेस के अलग अलग विभाग के पदाधिकारीगण शामिल हुए।

बता दें कि इससे पहले भोपाल से बीजेपी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ने भी नाथू राम गोडसे को देशभक्त बताया था। जिसके बाद बीजेपी की काफी किरकिरी हुई थी। हालांकि अपने शब्द वापस लेते हुए प्रज्ञा ने माफी भी मांगी थी। वहीं पीएम मोदी ने इस बायन को लेकर प्रज्ञा को कभी मन से माफ न करने की बात कही थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.