India vs Bangladesh : गुलाबी गेंद से खेलने को लेकर विराट ने ये बयान दिया है

इंदौर : भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि पहली बार गुलाबी गेंद से खेलना उनके और अन्य खिलाड़ियों के लिये चुनौतीपूर्ण होगा और नियमित लाल गेंद के बजाय डे-नाइट प्रारुप में अधिक सतर्कता बरतनी होगी। भारतीय क्रिकेट टीम ने इतिहास में कभी भी डे-नाइट प्रारुप में टेस्ट क्रिकेट नहीं खेला है और यह पहला मौका है जब गुरुवार से बंगलादेश के खिलाफ शुरु होने जा रही दो मैचों की टेस्ट सीरीज़ में गुलाबी गेंद से मैच खेला जाएगा। भारत और बंगलादेश दोनों टीमें कोलकाता में दूसरे मैच को डे-नाइट प्रारुप में पहली बार खेलेंगी।

कप्तान विराट ने होल्कर स्टेडियम में गुरुवार से शुरु होने वाले पहले टेस्ट की पूर्व संध्या पर संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वह गुलाबी गेंद से खेलने का अनुभव चाहते थे और निश्चित ही यह लाल गेंद से काफी अलग है। उन्होंने कहा,‘‘ मैं समझना चाहता था कि गुलाबी गेंद खेलने में कैसी है और पिच पर इसका व्यवहार कैसा रहेगा। हमारे लिए यह नया अनुभव है क्योंकि हमने पहले कभी गुलाबी गेंद से नहीं खेला है।’’

विराट ने कहा, ‘‘इस गेंद को समझने के बाद यह तो साफ हो गया है कि इससे खेलने के लिये अतिरिक्त सतर्कता बरतनी होगी। हमने हमेशा लाल गेंद से ही टेस्ट खेला है, लेकिन गुलाबी गेंद काफी अलग है। हम इसीलिये गुलाबी गेंद से अभ्यास करना चाहते थे और लगभग सभी ने इस गेंद से अच्छा प्रदर्शन किया है।’’