अयोग्य करार दिए गए विधायक का दावा, ‘येदियुरप्पा ने मुझे दिए 1000 करोड़ रुपए!

बेंगलुरुः कर्नाटक के अयोग्य ठहराए गए विधायक नारायण गौड़ा ने दावा किया है कि मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने उन्हें अपने निर्वाचन क्षेत्र कृष्णाराजपेट के विकास के लिए 1000 करोड़ रुपए दिए थे जिसका इस्तेमाल क्षेत्र के विकास कार्यों में किया जा रहा है। न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक गौड़ा ने अपने समर्थकों को बताया कि एक दिन कोई मेरे पास आया और सुबह-सुबह 5 बजे मुझे बीएस येदियुरप्पा के आवास पर ले जाया गया। उस समय कर्नाटक में एचडी कुमारस्वामी की सरकार थी। गौड़ा ने कहा कि जब वह वहां पहुंचे तो येदियुरप्पा पूजा कर रहे थे।

पूजा के बाद येदियुरप्पा ने उन्हें बैठने के लिए कहा और समर्थन देने को कहा ताकि वे कर्माटक के मुख्यमंत्री बन सकें। गौड़ा ने कहा कि मैंने येदियुरप्पा से कृष्णराजपेट निर्वाचन क्षेत्र के विकास के लिए 700 करोड़ रुपए आवंटित करने को कहा। इस पर येदियुरप्पा ने कहा कि वे 300 करोड़ और अधिक देते हुए 1000 करोड़ रुपए देंगे। येदियुरप्पा ने कुछ दिन बाद धन भी मुहैया कराया। इस पर गौड़ा ने समर्थकों से पूछा कि क्या आपको नहीं लगता कि मुझे ऐसे महान व्यक्ति का समर्थन करना चाहिए जो विकास कार्यों में साथ दे रहा है।

गौड़ा ने कहा कि इसलिए मैंने भी येदियुरप्पा का समर्थन किया। उल्लेखनीय है कि जुलाई 2019 में कर्नाटक विधानसभा के तत्कालीन अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने दल-बदल रोधी कानून के तहत 17 विधायकों को अयोग्य घोषित कर दिया था। जिसके बाद येदियुरप्पा ने फ्लोर टेस्ट साबित कर अपनी सरकार बनाई थी।