प्रदूषण से धीरे-धीरे उबर रही दिल्ली, आज हवा में हुआ हल्का सुधार…स्कूल खुले

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बुधवार को एयर क्वालिटी में कुछ सुधार हुआ, जिसने लोगों को कुछ राहत दी। अगले कुछ दिनों तक स्थिति और बेहतर होते रहने की संभावना है। हालांकि, केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के एक अधिकारी ने बताया कि सीपीसीबी पंजाब में पराली जलाए जाने पर कड़ी नजर रखे हुए है। सीपीसीबी के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी में आज अलग-अलग इलाकों में वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 350 के पार नहीं गया। सोनिया विहार में (314), लोधी रोड में 279 के बीच एक्यूआई रहा।

खुले स्कूल
काफी दिनों बाद आज दिल्ली के स्कूल भी खुले। दरअसल पिछले दिनों हवा ज्यादा प्रदूषित होने के कारण दिल्ली सरकार ने स्कूल 5 नवंबर तक के लिए बंद कर दिए थे जो एक फिर खुले।

हवा में होगा और सुधार
मौसम विभाग (आईएमडी) ने कहा है कि 25 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार की हवाओं ने प्रदूषकों को तेजी से छितरा दिया है। आईएमडी के क्षेत्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के कारण बुधवार रात और गुरुवार को उत्तर-पश्चिम भारत में बारिश होने के आसार हैं। दिल्ली-एनसीआर, जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बारिश होने का अनुमान है। वायु प्रदूषण पर निगरानी से जुड़ी पर्यावरण मंत्रालय की संस्था ‘सफर’ के अनुसार सोमवार को दिल्ली के पड़ोसी राज्यों में पराली जलाने की 4962 घटनायें दर्ज की गईं। इस बीच पंजाब में मंगलवार को इस सीजन में पराली जलाए जाने की सबसे अधिक 6,668 घटनायें सामने आने की खबर है।

दिल्ली-एनसीआर, जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बारिश होने का अनुमान है। वायु प्रदूषण पर निगरानी से जुड़ी पर्यावरण मंत्रालय की संस्था ‘सफर’ के अनुसार सोमवार को दिल्ली के पड़ोसी राज्यों में पराली जलाने की 4962 घटनायें दर्ज की गईं। इस बीच पंजाब में मंगलवार को इस सीजन में पराली जलाए जाने की सबसे अधिक 6,668 घटनायें सामने आने की खबर है।