CM विजयन बोले, केरल सरकार 10 से 50 साल की महिलाओं के मंदिर प्रवेश की समर्थक

तिरुवनंतपुरम: केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने सोमवार को विधानसभा को सूचित किया कि राज्य सरकार सबरीमाला में भगवान अयप्पा मंदिर में मासिक धर्म की आयु वाली महिलाओं के मंदिर में प्रवेश का समर्थन करेगी। उन्होंने कहा कि सरकार मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को रोकने के लिए कोई कानून नहीं लाएगी और वह 10 से 50 साल की आयु की महिलाओं के मंदिर में प्रवेश के सुप्रीम कोर्ट के आदेश को लागू करेगी। इस संबंध में एक समीक्षा याचिका पर सुनवाई करने के बाद फरवरी में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रख लिया था और वह उसी आदेश का इंतजार कर रहे हैं।

विजयन ने शून्य काल में कहा कि राज्य में कानून-व्यवस्था बनाए रखने को शीर्ष प्राथमिकता दी जाएगी। विपक्षी नेता रमेश चेन्निथला ने सरकार से आग्रह किया था कि वह इस मसले को समवर्ती सूची में शामिल करे और संबंधित अधिकारियों को सबरीमाला मसले पर कोई भी फैसला लेते हुए श्रद्धालुओं की धार्मिक भावनाओं को भी ध्यान में रखना चाहिए।