किसानों के मुद्दे पर कांग्रेस और BJP आमने- सामने, दोनों पार्टियां आज से शुरू करेंगी आंदोलन

ग्वालियर: मध्यप्रदेश में किसानों के मुद्दों पर राजनीति एक बार फिर गरमा गई है।एक तरफ कांग्रेस सोमवार से किसानों के मुद्दे पर केंद्र की बीजेपी सरकार के खिलाफ आंदोलन करने जा रही है। वहीं बीजेपी भी प्रदेश की मौजूदा कांग्रेस सरकार की विफलताओं और किसानों को मुआवजा नहीं दिए जाने जैसे मुद्दों को जनता के बीच भुनाने की कवायद में जुट गई है। वह भी सोमवार से मौजूदा प्रदेश सरकार के खिलाफ आंदोलन शुरू करने जा रही है।

ऐसे में किसानोंं के मुद्दे पर प्रदेश की कांग्रेस सरकार में कैबिनेट मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने बीजेपी सांसदों पर निशाना साधा है। वहीं इस दौरान बीजेपी ने भी प्रदेश कांग्रेस सरकार की जमकर आलोचना की है। सांसद विवेक शेजवलकर ने भी प्रदेश की कमलनाथ सरकार को हर मुद्दे पर विफल बताया है।

इस दौरान मध्य प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने प्रदेश के मौजूदा बीजेपी सांसदों पर बयान देते हुए कहां है कि प्रदेश में 29 सीटों में से 28 पर बीजेपी सांसद हैं, लेकिन सभी सांसद किसानों के मुद्दे पर चुप्पी साधे हुए हैं। साथ ही उन्होंने बीजेपी की केंद्र की सरकार पर भी किसानों को मुआवजा देने के मामले में सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि इसलिए कांग्रेस सोमवार से किसानों के हक के लिए पूरे प्रदेश में आंदोलन करेगी और अगर जरूरत पड़ी तो वे किसानों के मुद्दे पर दिल्ली में भी डेरा डालेंगे।

वहीं बीजेपी सांसद विवेक शेजवलकर ने कहा कि किसानों के मुआवजे के मामले में जमीनी स्तर पर ठीक ढंग से सर्वे नहीं हुआ है। अधिकारी कुछ कहते हैं और मंत्री कुछ और कहते नजर आते हैं। मौजूदा कांग्रेस सरकार ने लगभग वे सभी काम बंद कर दिए हैं जो पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की सरकार के समय में शुरू हुए थे। इसी को लेकर प्रदेश में बीजेपी भी प्रदेश में 4 नवंबर को कांग्रेस सरकार के खिलाफ आंदोलन करेगी।