महिला ने दिया 4 बच्चों को जन्म, चारों की मौत

गुना: गुना जिले के बमोरी ब्लॉक के बेरखेड़ी गांव में एक महिला ने चार बच्चों को जन्म दिया, लेकिन चारों की मौत हो गई। एक साथ चार बच्चों को जन्म देना जिले का संभवतया पहला मामला है। महिला की महज साढ़े छ महीने में ही डिलीवरी हो गई। उसके पति का आरोप है कि जननी एक्सप्रेस नहीं आने से इलाज मिलने में देरी हो गई, जिससे बच्चों की जान चली गई।

बेरखेड़ी निवासी हुकुमसिंह खेरूआ ने बताया कि उसकी पत्नी रीना को शनिवार शाम करीब 5 बजे दर्द शुरु हुई थी। उन्होंने जननी एक्सप्रेस को फोन किया। करीब साढ़े पांच बजे रीना ने एक बेटी को जन्म दिया। तब दोबारा फोन किया तो ड्राइवर ने महूगढ़ा रेलवे क्रॉसिंग पर जाम में फंसा होना बताया। काफी देर बाद जब जननी एक्सप्रेस आई, तब तक नवजात बेटी की मौत हो गई। देर शाम रीना को जिला अस्पताल पहुंचाया

ड्यूटी पर मौजूद डॉ. आराधना विजयवर्गीय ने बताया कि यह उनके जीवन का पहला केस है। अस्पताल में रीना ने रात साढ़े 9 बजे दूसरे, 9 बजकर पचास मिनट पर तीसरे और 9 बजकर 55 मिनट पर चौथे बच्चे को जन्म दिया, लेकिन उनकी भी मौत हो गई। समय से पहले डिलीवरी व वजन कम होने के कारण बच्चों की मौत हो गई। रीना की हालत भी बहुत खराब थी। रविवार को रीना की हालत में सुधार दिखा है।