अध्यक्ष पद से इस्तीफे पर राहुल गांधी को कांग्रेस की सलाह, करो देशभर की यात्राएं

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव में मिली हार के कारण अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने पर अड़े राहुल गांधी को मनाने के लिए दिल्ली और राजस्थान सहित कांग्रेस की कई प्रदेश इकाइयों ने उनसे अपने फैसले पर पुनर्विचार करने का आग्रह किया है। हालांकि सूत्रों का कहना है कि गांधी के रूख में कोई बदलाव नहीं आया है। इसी बीच कांग्रेस के सीनियर नेता और पूर्व प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने पार्टी में नई जान फूंकने के लिए राहुल गांधी को एक विशेष सलाह दी है। सिंघवी ने राहुल गांधी को इस्तीफे पर अंतिम फैसला करने से पहले देशभर की यात्राएं करने को कहा है। सिंघवी ने कहा कि राहुल 90-180 दिनों तक देशभर में यात्राएं करने का अपना कार्यक्रम बनाएं

उन्होंने कहा कि राहुल ये यात्राएं ट्रेन से और पैदल करें, ताकि वे आम लोगों से जुड़े उनसे बातें करें और उनके मन की बात जानें। सिंघवी ने कहा कि राहुल को इन यात्राओं का लाभ राजनीति में हो सकता है, इससे उनको कार्यसमिति में भी फायदा मिलेगा। सिंघवी ने कहा कि राहुल को इस्तीफा नहीं देना चाहिए बल्कि लोगों को क्या चाहिए उसे समझें और पार्टी को नए सिरे पर खड़ा करें। उन्होंने कहा कि अगर राहुल इस्तीफा दे देंगे तो भाजपा की चाल कामयाब हो जाएगी।

वहीं दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष शीला दीक्षित और पार्टी के कई नेताओं एवं कार्यकर्त्ताओं ने उनसे अपना फैसला बदलकर पार्टी का नेतृत्व जारी रखने का आग्रह किया है। गौरतलब है कि 25 मई को कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में गांधी ने इस्तीफे की पेशकश की थी, हालांकि सीडब्ल्यूसी ने उनकी पेशकश को खारिज करते हुए उन्हें संगठन में सभी स्तर पर आमूलचूल बदलाव के लिए अधिकृत किया।