कश्मीर के नाम पर पाकिस्तानी सैन्य अधिकारियों ने महिला पॉप सिंगर के साथ लगाए ठुमके, हुई किरकिरी

इस्लामाबाद। पाकिस्तान सैन्य अधिकारियों ने रविवार को पंजाबी पॉप सिंगर हुमैरा अरशद ( Punjabi Pop Singer Humaira Arshad) के साथ जमकर ठुमके लगाए। जिसके बाद पाकिस्तान में चारों तरफ उनकी किरकरी हो रही है। दरअसल, 26 अक्टूबर 1947 को जम्मू-कश्मीर का भारत में विलय हुआ था। इसके बाद से पाकिस्तान हमेशा से इसका विरोध करता रहा है। पाकिस्तान तभी से इस दिन को कश्मीर ब्लैक डे के रूप में मनाता आया है।

जिस कार्यक्रम में पाकिस्तान के उच्च सैन्य अधिकारियों ने जमकर ठुमके लगाए वह कार्यक्रम भी कथित कश्मीर ब्लैक डे के तहत ही हो रहा था। पाकिस्तानी सेना की मीडिया विंग इंटर सर्विस पब्लिक रिलेशंस (Inter Services Public Relations) यानि ISPR की तरफ आयोजित किया गया था। पाकिस्तान इस तरह के आयोजनों से कश्मीरियों के साथ खड़े होने का आडम्बर करता है और झूठ बोलकर दुनिया को दिखाने की कोशिश करता है कि भारत कश्मीर में वहां के मूल निवासियों पर अत्याचार कर रहा है। पंजाबी सिंगर हुमैरा के एक ट्वीट ने पाकिस्तानी सैन्य अधिकारियों की पोल खोल दी और इस कार्यक्रम की जानकारी लीक हो गई। हालांकि, हुमैरा ने कुछ ही देर बाद इस ट्वीट को डिलीट कर दिया।

न्यूज एजेंसी आइएनस से हुमैरा के पीआर मैनेजर रिजवान ने बात की। उन्होंने इस बात पर मुहर लगाई कि हुमैरा ने रविवार को पफॉर्मेंस दी थी। हालांकि, उन्होंने इस इवेंट की जगह के बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी नहीं दी है। रिजवान ने इस बात का भी खुलासा किया कि हुमैरा तीन-चार घंटे परफॉर्म करने का 8 से 9 लाख रुपये लेती हैं। हालांकि, उन्होंने इस बात की जानकारी नहीं दी कि हुमैरा के इस कार्यक्रम के लिए कितने ISPR ने कितने रुपये खर्च किए। बता दें कि एक तरफ पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था लगातार नीचे जा रही है और वहां लोगों को दो वक्त की रोटी भी नसीब नहीं हो रही। दूसरी तरफ पाकिस्तानी सेना वहां के करदाताओं के पैसे को इस तरह से उड़ाकर वहां के गरीबों का मजाक उड़ा रही है।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने और इसे दो अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने के बाद से पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान लगातार भारत और कश्मीर को लेकर झूठ बोल रहे हैं। दोनों देशों के बीच रिश्ते पहले से ही दोस्ताना नहीं रहे हैं, लेकिन पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक (Surgical Strike – 2) किया था। इसके बाद से दोनों देशों के रिश्तों में तनाव चरम पर है।

अनुच्छेद 370 हटाए जाने को लेकर पाकिस्तान इतना बौखलाया हुआ है कि वह इसके विरोध में यूएन तक का दरवाजा खटखटा चुका है, लेकिन चारों तरफ से उन्हें मुंह की खानी पड़ी।