दुमका में फिर पेट्रोल डालकर जिंदा जला दी गई 19 वर्षीय लड़की, आरोपी गिरफ्तार

रांची| झारखंड के दुमका में डेढ़ माह के भीतर पेट्रोल कांड दोहरा दिया गया। गुरुवार की रात जलाई गई 19 वर्षीय मारुति कुमारी इलाज के लिए दोपहर रांची लाई गई थी, लेकिन उसने यहां हॉस्पिटल में दाखिल कराये जाने के तुरंत बाद दम तोड़ दिया। दुमका जिले के जरमुंडी थाना क्षेत्र के भरतपुर भालकी गांव में राजेश राउत नामक शख्स ने घर में घुसकर उसपर पेट्रोल उड़ेलकर आग लगा दी थी। मारुति उस वक्त गहरी नींद में थी। आग लगते ही वह चीखने लगी। उसने मैजिस्ट्रेट के सामने पुलिस को दिये बयान में कहा है कि आग लगाने वाले राजेश को उसने भागते हुए देखा।

हालांकि बाद में पुलिस ने राजेश को गिरफ्तार कर लिया है। इसके पहले बीते 23 अगस्त को दुमका शहर में ही 16 वषीर्या अंकिता सिंह को दो युवकों ने इसी तरह पेट्रोल डालकर जला डाला था, जिसकी एक हफ्ते बाद रांची में इलाज के दौरान मौत हो गई थी।

राजेश राउत शादीशुदा है, लेकिन इसके बावजूद वह मारुति और उसके घर वालों पर शादी के लिए दबाव बना रहा था। मारुति जामा थाना क्षेत्र के भैरवपुर गांव की रहने वाली है, लेकिन वह बचपन से ही नानी के घर जरमुंडी थाना क्षेत्र के भरतपुर भालकी गांव में रहकर पली-बढ़ी। मारुति और राजेश राउत एक-दूसरे को 2019 से जानते थे। राजेश राउत उसपर शादी का दबाव डाल रहा था। इस बीच इस साल बीते फरवरी महीने में उसने किसी और लड़की से शादी कर ली। इसके बाद भी वह मारुति पर शादी के लिए दबाव डाल रहा था। राउत का कहना था कि उसकी भले ही शादी हो गई हो, लेकिन वह उसके साथ भी विवाह करेगा और अपने साथ रखेगा। युवती और उसके घरवालों ने साफ तौर पर इनकार कर दिया तो पिछले कई दिनों से राजेश राउत उसे जिंदा जला डालने की धमकी दे रहा था। गुरुवार की रात राजेश राउत युवती के घर के पिछले दरवाजे की कुंडी तोड़कर घुस गया। उसने गहरी नींद में सोई मारुति कुमारी पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी। बुरी तरह झुलसी मारुति का बयान पुलिस ने मैजिस्ट्रेट चरणजीत सिंह की उपस्थिति में दर्ज किया गया है। पीड़िता के मुताबिक, जब शरीर में आग लग गई तो आंख खुली। उसने राजेश को घर से निकलकर भागते हुए देखा। मारुति के मुताबिक उसे राजेश ने तीन-चार दिन पहले जलाकर मारने की धमकी दी थी। जरमुंडी के एसडीपीओ शिवेन्द्र ने बताया कि आरोपी राजेश राउत को गिरफ्तार कर लिया गया है। वह दुमका जिले के रामगढ़ थाना अंतर्गत महेशपुर गांव का रहने वाला है।

इधर डेढ़ महीने के भीतर दुमका में हुए इस दूसरे पेट्रोल कांड को लेकर विपक्ष हेमंत सोरेन सरकार पर हमलावर हो गया है। पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने ट्विट किया है, दुमका की अंकिता की तरह पेट्रोल डाल जला दी गई जरमुंडी की पीड़िता मारूती कुमारी भी जिंदगी की जंग हार गई। ना जाने इस राज्य में कितनी बेटियां ध्वस्त हो चुके कानून व्यवस्था की कीमत जान गंवाकर चुकाएंगी?

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि जब अपराधियों में भय समाप्त हो जाता है, तो ऐसी घटनाएं बार-बार सामने आती हैं। हेमंत सरकार में अपराधियों की हिम्मत काफी बढ़ गई है।