मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज गांधी जयंती के अवसर पर छत्तीसगढ़ शासन की महत्वकांक्षी योजना ‘महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना’ के शुभारंभ

रायपुर:  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज गांधी जयंती के अवसर पर छत्तीसगढ़ शासन की महत्वकांक्षी योजना ‘महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना’ के शुभारंभ और विभिन्न जिलों में रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के शिलान्यास कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं
मुख्यमंत्री  बघेल ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय लाल बहादुर शास्त्री और छत्तीसगढ़ महतारी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया
मुख्यमंत्री निवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आयोजित कार्यक्रम में गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री  रविंद्र चौबे, वनमंत्री  मोहम्मद अकबर, महिला एवं बाल विकास मंत्री मती अनिल भेंड़िया, संसदीय सचिव  चंद्रदेव प्रसाद राय ,राज्य गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष महंत राजेश्री रामसुंदर दास, राज्य नागरिक आपूर्ति निगम अध्यक्ष  राम गोपाल अग्रवाल,मुख्यमंत्री के सलाहकार प्रदीप शर्मा उपस्थित हैं

राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों के चयनित गौठानों को आजीविका के केन्द्र के रूप में विकसित करने के लिए वहां महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रीयल पार्क बनाए जा रहे हैं

इन पार्कों को ग्रामीण उत्पादन एवं सेवा केन्द्र के रूप में विकसित किया जा रहा है

छत्तीसगढ़ के प्रत्येक विकासखण्ड में दो रूरल इंडस्ट्रियल पार्क बनेंगे

चालू वित्तीय वर्ष के बजट में महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रीयल पार्क के लिए 600 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है
प्रदेश में गौठनों को रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के रूप में विकसित किया जा रहा है

प्रथम चरण में 300 रूरल इंडस्ट्रियल पार्क विकसित किए जा रहे हैं

गौठनों में वर्मीकम्पोस्ट, मुर्गी पालन, बकरी पालन, कृषि उत्पादों और वनोपजों के प्रसंस्करण के कार्य किया जा रहे हैं

इन गतिविधियों में बड़ी संख्या में स्वसहायता समूह की महिलाओं और युवाओं को रोजगार और आय के अवसर मिल रहे हैं
प्रथम चरण में प्रत्येक विकासखण्ड में 2 रीपा स्थापित किये जायेंगे

पंचायत एवं ग्रामीण विभाग होगा नोडल विभाग
मुख्यमंत्री ने महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क-  ‘रीपा’ के लोगो का किया विमोचन
मुख्यमंत्री ने महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क- ‘रीपा’ योजना का शुभारंभ किया

मुख्यमंत्री ने रीपा के रूप में विकसित किए जा रहे राजनांदगाँव जिले के जर्वे  गौठान की  सरस्वती से बातचीत की। सरस्वती ने बताया कि उनके समूह में 40 महिलाएं कार्य कर रही हैं, महिला समूह पहले वर्मी खाद बना रही थीं, अब रीपा के माध्यम से अन्य गतिविधियां भी संचालित की जाएंगी,

 जिला पंचायत सीईओ ने मुख्यमंत्री को बताया कि एक करोड़ की राशि प्रति रीपा दी जा रही है

4 गतिविधि संचालित की जा रही हैं , मशरूम पालन अचार पापड़ निर्माण के कार्य किये जायेंगे

राजीव मितान क्लब के  गजेंद्र सिदार जी ने कहा कि वे ओफ़्सेट प्रिंटिंग यूनिट लगाएंगे

जांजगीर चाम्पा से चरवाहा  मयाराम ने बताया कि 1 लाख 4 हज़ार का गोबर बेचा है, पैसे से घर बनाया है, वे भूमिहीन हैं, भूमिहीन न्याय योजना की राशि मिल रही है

बेमेतरा के अमलडीहा से सविता ने बताया कि रीपा के तहत हमें रोजगार मिल रहा है, ईंट और सीमेंट खंभा बनाने का कार्य करेंगी

कांकेर में 14 रीपा इकाई का आज उद्घाटन हो रहा है, प्रदेश की पहली गोबर से पेंट बनाने की इकाई  का उद्घाटन आज किया जा रहा है,
नैना धनकर ने मुख्यमंत्री को बताया कि गोठान में 2 साल से महिलाएं काम कर रही हैं, गोबर से पेंट बनाने का कार्य अब रीपा में करेंगी, मुख्यमंत्री ने कहा कि जमीन लीपने के काम पहले गोबर आता था, अब दीवार पेंट करने के काम गोबर आएगा, नैना ने कहा कि उन्हें बहुत खुशी है कि उनके गांव में इतने काम हो रहे हैं, पहले घर तक  सीमित थी महिलाएं , अब घर मे भी सम्मान मिल रहा है, आत्मविश्वास बढ़ा है

नेमि निषाद ने मुख्यमंत्री को रीपा योजना के लिए धन्यवाद दिया,  उनकी आर्थिक स्थिति इस योजना से सुधरेगी