घर-घर चलाया सर्चिंग अभियान, दो लड़कियों के डॉक्यूमेंट मिले गड़बड़, निगरानी में लिया

ग्वालियर: मंगलवार को बदनाुपरा से बरामद दो और लड़कियां। पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है।पुलिस, नगर निगम, CMHO की टीम एक साथ पहुंची गांवग्वालियर पुलिस ने एक बार फिर बदनापुरा में ऑपरेशन शक्ति चलाया है। मंगलवार दोपहर बदनापुरा पहुंची पुलिस ने घर-घर को सर्च किया है। यहां एक घर से दो लड़कियां और मिली हैं। इनके बर्थ सार्टिफिकेट और राशन कार्ड जाली नजर आए हैंं। जिसके बाद पुलिस ने दोनों लड़कियों को निगरानी में लेकर थाने पहुंचा दिया है। जहां से लड़कियां मिली हैं उस घर के मालिक को भी हिरासत में लिया है।बाद में एक लड़की के संबंध में दस्तावेज मिले हैं। मंगलवार पुलिस अकेले बदनापुरा नहीं पहुंची थी। पुलिस अपने साथ नगर निगम के अमला और CMHO ग्वालियर के दलों को भी साथ ले गई थी। जिससे दस्तावेजों की छानबीन और मेडिकल तत्काल किया जा सके।बदनापुरा में सर्चिंग के दौरान पूछताछ करते हुए क्राइम ब्रांच की महिला पुलिसकर्मीशहर के रेड लाइट एरिया बदनापुरा-रेशमपुरा में दो दिन पहले तीन लड़कियां मिलने के बाद मंगलवार को पुलिस एक बार फिर पूरी तैयारी के साथ पहुंची है। इस बार पुलिस के साथ नगर निगम का अमला, सीएमएचओ की टीम के साथ महिला बाल विकास विभाग के अफसर मौजूद थे। पुलिस की टीम ने एक-एक घर का वेरीफिकेशन किया है। यहां वेरीफिकेशन के दौरान एक धनावत परिवार के घर से दो लड़कियां और संदिग्ध मिली हैं। इनका तत्काल कोई रिकॉर्ड यह परिवार नहीं दे पाया। जो डॉक्यूमेंट दिए थे वह प्रारंभिक पड़ताल में जाली नजर आ रहे थे। जिस पर दोनों लड़कियों को निगरानी में लेकर पुलिस ने सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया है। धनावत को पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। इन लड़कियों के संबंध में भी पुलिस गांव में पूछताछ कर रही है।हेकड़ी की जगह दिखा गिरफ्तारी का डरमंगलवार को फिर बदनापुरा-रेशमपुरा पहुंची क्राइम ब्रांच व महिला बाल विकास की टीम ने जाते ही यहां पर रहने वाले लोगों को अल्टीमेटम दिया कि टीम सर्वे कर रही है और हर व्यक्ति की जानकारी दर्ज की जाएगी। जिस व्यक्ति की जानकारी दर्ज नहीं हुई और बाद में चेकिंग में पकड़ा जाता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। क्राइम ब्रांच द्वारा लगातार की जा रही कार्रवाई के चलते पहले दिन जो लोग हेकड़ी दिखा रहे थे वह शांत रहे और सभी ने अपने घर में रहने वालों की जानकारी देना शुरू कर दी। दो दिन पहले जिन लोगांे ने पुलिस को हेकड़ी दिखाई थी वह आज डरे और सहमे खड़े नजर आए हैं। उनको साफ पता था कि अभी बोलने का मतलब है सीधे FIR इसलिए वह चुपचाप जानकारी देकर निकल गए।हर घर का किया फिजीकली निरीक्षणबदनापुरा में सर्वे करने पहुंची टीम ने सबसे पहले सर्च किया कि घर में कितने लोग रहते हैं। इन लोगों का आपस में क्या रिश्ता है इसकी जानकारी ली और यहां पर रहने वाली बच्चियों से भी बातचीत कर जानकारी जुटाई। इसके बाद टीम यहां पर बने घरों का फिजीकली निरीक्षण किया, जिससे पता चल सके कि किस घर में बाहर जाने के चोर रास्ते हैं। पुलिस ने राजस्व विभाग के साथ मिलकर एक-एक परिवार का लेखा जोखा तैयार कर लिया है। अब आगे जब भी पुलिस एक्शन लेगी तो एक भी सदस्य यहां ज्यादा या कम मिला तो उनके बारे में विस्तार से पूछताछ की जाएगी। जिससे आसानी से इनको यहां पकड़ा जा सकेगा।यह है पूरा मामलामुरैना-ग्वालियर बॉर्डर पर शहर के पुरानी छावनी इलाके में आने वाला बदनापुरा गांव मानव तस्करी और देह व्यापार के लिए लड़कियों की खरीद फरोख्त के लिए हमेशा से बदनाम रहा है। यहां कई बार पुलिस को नाबालिग लड़कियां मिली हैं। यहां लड़कियों की खरीद फरोख्त होती है। जब भी गांव मंे पुलिस एंट्री करती है तो गांव के लोगों के कड़े विरोध का सामना करना पड़ता है। रविवार को ग्वालियर पुलिस ने एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग एक्शन के तहत “ऑपरेशन शक्ति’ चलाकर बदनापुरा में अब तक का सबसे बड़ा सर्च ऑपरेशन चलाया था। करीब 150 पुलिस जवानों व अफसरों के साथ पुलिस, क्राइम ब्रांच व लाइन से फोर्स लेकर पुलिस अफसरों ने बदनापुरा के रेड लाइट एरिया को चारों तरफ से घेर लिया। पुलिस ने जब दबिश दी तो गांव में हड़कंप मच गया। विरोध करने की सोच रहे गांव के लोग पुलिस फोर्स को देख सहमे से खड़े रह गए। पुलिस ने एक-एक घर में सर्चिंग की तो बदनापुरा के 5 घरों से पुलिस ने 6 नाबलिग बच्चियों को बरामद किया था, जिनकी उम्र 10 से 16 वर्ष है। इसके साथ ही दो युवकों को भी गिरफ्तार किया था। एक युवक पुलिस के हाथ से निकल गया है। इनमें से तीन लड़कियों से संबंधित दस्तावेज गांव के लोगों ने दिखा दिए हैं। पर तीन के दस्तावेज न मिलने पर पुलिस ने उनको CWC (बाल कल्याण समिति) के सामने पेश कर बालिका आवास गृह में सुरक्षित पहुंचा दिया था।पुलिस का कहनाइस मामले में एसएसपी ग्वालियर अमित सांघी ने बताया है कि मंगलवार को की गई सर्चिंग में एक युवती मिली है जिसके दस्तावेज संदिग्ध नजर आ रहे हैं। युवती को निगरानी में लिया गया है। जिस घर से वह मिली है उसे भी हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।