फर्जी निकली JK हॉस्पिटल में बम मिलने की अफवाह, दिमागी रूप से अस्वस्थ है शिकायतकर्ता

भोपाल: राजधानी के कोलार रोड स्थित जे के अस्पताल में बम रखे होने की सूचना से इलाके में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में बम डिस्पोजल दस्ता, डॉग स्क्वॉड और रिजर्व बल समेत बड़ी संख्या में फोर्स मौके पर पहुंच गया। जांच पड़ताल के बाद बम की सूचना फर्जी निकली। पुलिस ने सूचना देने वाले की तलाश की तो पता चला कि वह मानसिक रूप से बीमार है और उसका डॉक्टरी इलाज चल रहा है।
जानकारी के अनुसार शनिवार की रात करीब दस बजे एक व्यक्ति ने डायल 100 को सूचना दी, कि जे के अस्पताल परिसर में बम रखा है। इस सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने तत्काल ही अस्पताल में भर्ती गंभीर मरीजों को सुरक्षित स्थान पर शिफ्ट कराया और जांच-पड़ताल शुरू की। तब तक बीडी एण्ड डीएस टीम भी मौके पर पहुंच गई। बम की सूचना फैलते ही इलाके में अफरा-तफरी मच गई, जिसे संभालने के लिए पुलिस कंट्रोल रूम से अतिरिक्त बल बुलाया गया। इसी बीच SP साउथ संपत उपाध्याय समेत सभी वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। पूरे अस्पताल की छानबीन करने के बाद बम की सूचना फर्जी निकली, जिसके बाद पुलिस ने राहत की सांस ली।
BE का छात्र है फर्जी सूचना देने वाला…
पुलिस ने जब सूचना देने वाले के मोबाइल पर संपर्क किया तो वह स्विच ऑफ मिला। इसके बाद पुलिस ने मोबाइल नंबर की कॉल डिटेल निकाली तो वह नंबर इंजीनियरिंग के एक छात्र का निकला। तीस वर्षीय यह इंजीनियरिंग छात्र चूनाभट्टी इलाके का रहने वाला है। बताया जाता है कि वह मानसिक तौर पर सामान्य नहीं है। उसका पंडित खुशीलाल शर्मा आयुर्वेद महाविद्यालय एवं जे के अस्पताल में इलाज चल रहा है। परिजनों ने पुलिस को उससे जुड़े डॉक्टरी पर्चे उपलब्ध करा दिए हैं। पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है।