भारत के राजदूत ने अमेरिकी छात्रों से कहा: भारत में आकर पढि़ए

वॉशिंगटन: अमेरिका में भारत के राजदूत हर्ष वर्धन श्रृंगला ने कहा है कि भारत पिछले पांच साल से वृहद (मैक्रो)आर्थिक स्थिरता के बेहतरीन चरण में है और वह इस साल के अंत तक विश्व में पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने जा रहा है। 71वें च्एन्युअल कांफ्रेंस एंड एक्पो ऑफ एसोसिएशन ऑफ इंटरनेशनल एजुकेट्र्स में श्रृंगला ने कहा कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) एक वैधानिक संगठन है जिसे विश्वविद्यालयी शिक्षा के मानकों का समन्वय, निर्धारण और रख रखाव के लिए स्थापित किया गया है। उन्होंने कहा कि यूजीसी अपनी वेबसाइट पर भारत के फर्जी शिक्षा संस्थानों की सूची भी देता है ताकि छात्रों के साथ किसी प्रकार की धोखाधड़ी नहीं हो।

श्रृंगला ने मंगलवार को कहा, आपको उत्कृष्ट गुणवत्ता की शिक्षा मिलेगी क्योंकि हमारे पास ठोस रैंकिंग/मान्यता प्रणाली है। उन्होंने कहा, च्च्भारत में पढऩे के अन्य लाभ देखें, आप सबसे तेजी से विकास कर रही बड़ी वैश्विक अर्थव्यवस्था का हिस्सा होंगे। भारत में लघुकाल या दीर्घकाल के लिए पढऩे पर आपको सरकारी प्रणालियों, संस्कृति और बाजारों को निकटता से समझने का मौका मिलेगा। उन्होंने कहा कि इससे अंतरराष्ट्रीय छात्रों में भारत के बारे में समझ विकसित होगी जो कारोबार, सरकार और गैर लाभकारी क्षेत्र में उपयोगी साबित होगी।

उन्होंने कहा कि भारत ने पिछले पांच साल में वृहद आर्थिक स्थिरता का सर्वश्रेष्ठ चरण देखा है। उन्होंने कहा, 2013-14 में विश्व की11वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था होने के बाद हम इस साल के अंत तक विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की ओर बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत क्रय शक्ति समता के मामले में चीन और अमेरिका के बाद तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.