अरुण जेटली ने PM मोदी को लिखा खत- मेरी सेहत खराब, सरकार में न बनाएं मंत्री

नई दिल्लीः केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मोदी सरकार में कोई भी मंत्री पद लेने से इंकार कर दिया है। जेटली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिखकर अनुरोध किया है कि उन्हें नई सरकार में कोई भी जिम्मेदारी न दी जाए। जेटली ने लिखा कि मैं आपसे (नरेंद्र मोदी) औपचारिक रूप से अनुरोध करने के लिए खत लिख रहा हूं कि मुझे अपने लिए, मेरे इलाज और मेरी सेहत के लिए उचित समय की अनुमति दी जानी चाहिए, और इसलिए मैं नई सरकार में किसी भी जिम्मेदारी का हिस्सा नहीं बनना चाहता।
PunjabKesari
उल्लेखनीय है कि गुरुवार को नरेंद्र मोदी दूसरी बार पीएम पद की शपथ लेने जा रहे हैं। ऐसे में जेटली के कैबिनेट में शामिल होने की सारी संभावनाएं खत्म हो गई हैं। बता दें कि जेटली गंभीर रूप से बीमार चल रहे हैं और इलाज के सिलसिले में उन्हें अमेरिका भी जाना पड़ा है। मोदी सरकार की दूसरी बार सत्ता में वापिसी के बाद से कयास लगाए जा रहे थे कि जेटली के गिरते स्वास्थ्य के कारणों से उन्हें वित्त मंत्रालय की जगह कोई ऐसा मंत्रालय दिया जा सकता है, जहां उन्हें कुछ आराम रहे लेकिन अब उन्होंने खुद ही कोई भी मंत्रालय लेने से इंकार कर दिया है।

बता दें कि मोदी सरकार ने फरवरी में अपना अंतरिम बजट पेश किया था। उस दौरान अरुण जेटली की जगह पीयूष गोयल ने अंतरिम बजट पेश किया था। इलाज के लिए जेटली के अमेरिका जाने के बाद पीयूष गोयल ने ही वित्त मंत्रालय संभाला था।