लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, सहायक आबकारी आयुक्त के 5 ठिकानों पर मारा छापा

भोपाल: मध्यप्रदेश में लोकायुक्त ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। प्रदेश के सहायक आबकारी आयुक्त आलोक कुमार खरे के कई ठिकानों पर लोकायुक्त ने छापा मारा है। यह कार्रवाई देर रात से चल रही है। बताया जा रहा है कि आलोक खरे के इंदौर, भोपाल, छतरपुर और रायसेन समेत कई ठिकानों में लोकायुक्त ने दबिश दी है। फिलहाल छतरपुर में सीनिट्स कॉलोनी में आलोक खरे के पिता लालजी खरे के घर में छापेमार कार्रवाई चल रही है। यह कार्रवाई आय से अधिक संपत्ति के मामले में चल रही है।

लोकायुक्त की टीम के 12 सदस्यों की टीम इस कार्रवाई को अंजाम दे रहे हैं। लोकायुक्त डीएसपी नवीन अवस्थी ने बताया है कि ‘रायसेन में लगभग 20 एकड़ में आलीशान फार्म हाउस मिला है। वहीं 36 एकड़ में भी एक और फॉर्म हाउस मिला है। बताया जा रहा है कि डाबर और इमलिया में लगभग 21 एकड़ जमीन में फार्म हाउस बना है। इस कार्रवाई में भारी मात्रा में कैश भी बरामद हो चुका है। इंदौर के ग्रेंड एक्सोटिका सहित अन्य स्थान पर जब टीम पहुंची तो उन्हें ताला लगा मिला।

शिकायत मिलने पर की गई कार्रवाई…
जानकारी के अनुसार लंबे समय से सहायक आबकारी आयुक्त आलोक खरे के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति होने की शिकायत मिल रही थी, जिसको लेकर एक योजना बनाते हुए लोकायुक्त पुलिस ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया है। कार्रवाई के दौरान इस बात का भी पता लगा है कि आलोक खरे की पत्नी रायसेन में फलों की खेती कर रही हैं, और वे पत्नी के नाम से ही इनकम टैक्स रिटर्न फाइल कर रहे थे। अलग-अलग जगहों पर लोकायुक्त पुलिस जांच कर रही है। इसके बाद ही साफ हो पाएगा कि खरे के ठिकानों से लोकायुक्त को क्या मिला। लोकायुक्त ने जहां कहीं भी छापेमारी की है वहां खरे के बड़े बड़े बंगले बने हुए मिले हैं।