आरोपियों को लिया 2 दिन के रिमांड पर, कुल 25 लाख रुपए की हुई थी लूट, शिकायतकर्ता को भी किया जांच में शामिल

करनाल: आरोपियों को हिरासत में लेती पुलिस।करनाल रेलवे स्टेशन पर मंगलवार को हुई 8 लाख रुपए लूटने की वारदात को सुलझाते हुए पुलिस ने बुधवार को 3 लोगों को गिरफ्तार किया था। वीरवार को तीनों आरोपियों को अदालत में पेश कर दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है। तीनों से 8 लाख रुपए की जगह पुलिस ने 24 लाख 41 हजार रुपए की नकदी बरामद की थी। जबकि आरोपियों ने सीता राम से 25 लाख रुपए की लूट की थी।शिकायतकर्ता को किया जांच में शामिलवीरवार को करनाल पुलिस ने शिकायतकर्ता सीता राम व उमेश को जांच में शामिल किया गया। पहले लूट के बाद सीता राम ने 8 लाख रुपए की लूट की पुलिस को शिकायत दी थी। लेकिन पुलिस द्वारा आरोपियों से 24 लाख 41 हजार रुपए बरामद किए। पैसों की जांच को लेकर दोनों शिकायतकर्ताओं को जांच में शामिल किया। दोनों ने अपने बयान पुलिस को दर्ज करवाए। सीता राम ने पुलिस को बताया कि वह डर गए थे। इसलिए उन्होंने लूट के पैसे कम लिखवाए।25 लाख रुपए की थी रकम​​​​​​​वीरवार को सीता राम ने पुलिस को दिए दोबारा बयान में बताया कि उनकी करनाल में ही कुछ जमीन थी वो जमीन बेची और कुछ पैसे ईंट भट्टों से लिए थे।कुल मिलकार वह 25 लाख रुपए बिहार पटना लेबर को देने के लिए जा रहे थे। वहीं पुलिस अब शिकायतकर्ता के बयान के बाद पैसो की जांच में जूट गई है।रिमांड के दौरान बाकी पैसे किए जाएंगे बरामद​​​​​​​वीरवार को पुलिस ने तीनों आरोपियों को अदालत में पेश कर दो दिन का रिमांड लिया है। तीनों आरोपियों से बाकी रकम से 59 हजार रुपए और बरामद किए जाएगें।एक दिन पहले बनाया लूट का प्लान​​​​​​​इस लूट में ईंट भट्ठे के अकाउंटेंट राहुल ही साजिशकर्ता पाया गया था। राहुल ने अपने सगे भाई और अन्य दोस्त के साथ इस वारदात की योजना एक दिन पहले यानि 15 अगस्त को बनाई थी। ईंट-भट्‌ठे पर काम करने राहुल को सीता राम के पास कैश होने की जानकारी थी। उसी ने यह जानकारी अपने बड़े भाई रोहित और उसके साथी संजय को दी। सीता राम की पूरी रैकी राहुल पहले ही कर चुका था। मंगलवार सुबह 11 बजे प्लानिंग के तहत रोहित और संजय बाइक पर आए और सीता राम से कैश से भरा बैग लेकर फरार हो गए। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल बाइक बरामद कर ली।राहुल को थी पेमेंट की जानकारी​​​​​​​शिकायतकर्ता सीता राम के अनुसार, राहुल को पता था कि वह बिहार में लेबर के लिए पेमेंट लेकर जा रहा है। 16 अगस्त की सुबह करीब 10 बजे वह बैग में आठ लाख रुपये डालकर राहुल के साथ कार में रेलवे स्टेशन के लिए निकला। कार राहुल चला रहा था। जब वह लोग करनाल रेलवे स्टेशन की पार्किंग में पहुंचे तो वहां बाइक पर आए दो युवक राहुल के हाथ से रुपयों से भरा बैग छीन कर फरार हो गए।पुलिस कर रही जांचपुलिस कप्तान गंगा राम पूनिया ने बताया कि इस लूट में आरोपियों द्वारा कुल 25 लाख रुपए की लूट की वारदात को अंजाम दिया। यह खुलासा शिकायतकर्ता ने वीरवार को पुलिस जांच में शामिल होने के बाद किया। पुलिस अब शिकायतकर्ता के पास इतने पैसे कहा से आए इसकी भी जांच कर रही है। वहीं आरोपियों से दो दिन के रिमांड के दौरान अन्य पैसों की भी रिकवरी की जाएगी।