GMC के जूनियर डॉक्टरों ने लिखा CM को पत्र, कॉलेज के डीन को हटाने की मांग

भोपालराजधानी भोपाल के गांधी मेडिकल कॉलेज में छात्रों की सुरक्षा का मुद्दा गरमाया हुआ है। मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टरों ने इसको लेकर CM कमलनाथ को एक पत्र लिखा है। पत्र लिखकर जूनियर डाक्टरों ने डीन को हटाने की मांग की है। आपको बता दें कि कॉलेज की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सोमवार से जूनियर डॉक्टर हड़ताल पर जा रहे हैं।
दरअसल शनिवार को मेडिकल कॉलेज के गर्ल्स हॉस्टल में घुसकर एक बदमाश ने छात्रा के गले में पेंचकस लगाकर अश्लील हरकत करने की कोशिश की और उसे धमकाया, इस मामले की शिकायत लेकर छात्र जब डीन के पास पहुंचे तो डीन के द्वारा किसी भी प्रकार की कोई भी कार्रवाई नहीं की गई, और न ही सुरक्षा के इंतजाम किए गए। जिसके चलते नाराज होकर स्टुडेंट्स ने हड़ताल पर जाने का फैसला किया और प्रदर्शन भी किया।

घटना के दूसरे दिन यानी रविवार को गांधी मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ अरुणा कुमार ने इस बात को स्वीकार किया कि ‘मैंने छात्रा को प्रक्रिया के तहत आने के लिए कहा था, जून महीने मे हॉस्टल में एक लड़की के कमरे में तोड़-फोड़ और डकैती हुई थी, उन्होंने कहा कि छेड़छाड़ करने वाले मेडिकल छात्र ने शनिवार देर रात पुलिस शिकायत में एक लाइन जोड़ी। पीड़ित छात्रा ने शनिवार को आरोप लगाया था कि जब वह जून की घटना के बाद डॉ. कुमार के पास पहुंची, तो उन्हें उचित चैनल के माध्यम से आने को कहा गया। इसके बाद डॉ. कुमार ने कहा कि मामले में शिकायत दर्ज की गई थी, एक प्रशासक के रूप में मैं एक बार कार्रवाई करूंगा, जब वार्डन मुझे घटना के बारे में लिखेगा। रविवार के दिन गर्ल्स हॉस्टल में हुई घटना का विवरण मांगा गया है। डॉ कुमार ने नियमों को बताते हुए कहा कि, ‘हॉस्टल वार्डन को दरकिनार कर काम नहीं किया जा सकता है’।