AAP का नया एजेंडा ऊपर मोदी, नीचे केजरीवाल!

नई दिल्ली: हाल के चुनावों के बाद आम आदमी पार्टी ने भी पॉलिटिकल अफेयर्स की बैठक के बाद गतिविधियों को तेज करते हुए अपनी एजेंडा स्पष्ट कर दिया है। वह दिल्लीवासियों के मनमस्तिष्क में यह फिट करने की जुगत भिड़ा रही है कि ऊपर मोदी, नीचे केजरीवाल….। यानि केंद्र की सत्ता में भाजपा और दिल्ली की गद्दी पर आम आदमी पार्टी। इसके लिए वह भाजपा और कांग्रेस के बयानों को तीर बनाएगी तो वहीं बुधवार-गुरूवार को प्रदेश संयोजक गोपाल राय भी महत्वपूर्ण बैठक करने जा रहे हैं।

अटकलें चल रही हैं कि नवम्बर में हरियाणा और दिसम्बर में झारखंड में विधानसभा चुनाव निर्धारित हैं और दिल्ली में भी इसी दौरान चुनाव करवाए जा सकते हैं। इस आशंका को भांपते हुए आम आदमी पार्टी ने तीन स्तर पर अपनी गतिविधियां बढ़ा दी हैं।  आज पार्टी प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने ट्वीट कर कहा कि-‘भाजपा वाले एक साल से दिल्लीवालों को रटा रहे थे-ऊपर मोदी नीचे केजरीवाल, कांग्रेसी तीन महीने से रटा रहे थे-ऊपर राहुल गांधी दिल्ली में केजरीवाल। हमने सोचा इतनी मेहनत की है दोनो पार्टियों ने, उनका भी दिल रख लेते हैं।’

इससे साफ है कि पार्टी ने अब विधानसभा में विकास के साथ-साथ भाजपा-कांग्रेस की मोर्चाबंदी के लिए स्थानीय बनाम राष्ट्रीय को मुद्दा बनाने की नीति तैयार कर ली है। पार्टी के प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने आज बताया कि परसों हम महत्तवपूर्ण बैठक कर रहे हैं और उसके बाद पार्टी आगे की रणनीति तय करेगी। हालंाकि मौजूदा लोकसभा उम्मीदवारों को चुनाव लड़वाएंगे इस पर वह गोलमोल जवाब देते हुए कहते हैं-सभी 70 सीटों के लिए उम्मीदवारों का चयन होगा।