हिंदू संगठनों ने किया विरोध प्रदर्शन, इस्लामिक आतंकवाद का फूंका पुतला, हत्यारोपियों को फांसी देने की मांग

फरीदाबाद: तेज बारिश में भी हिंदू संगठनों ने किया विरोध प्रदर्शन, घटना को इस्लामिक आतंकवाद बताया।विश्व हिन्दू परिषद एवं हिंदू संगठनों ने गुरुवार को सेक्टर 12 लघु सचिवालय पर उदयपुर में दिनदहाड़े हिंदू युवक की दुकानके अंदर घुसकर की गई हत्या के विरोध में प्रदर्शन किया। इस्लामिक आतंकवाद का पुतला दहन किया। लोगों ने सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा। विरोध प्रदर्शन में हिंदू जागरण मंच, गौ सेवा संगठन, विश्व हिंदू परिषद् समेत अन्य संगठनों के लोग शामिल रहे।जिला मुख्यालय पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत संपर्क प्रमुख गंगा शंकर, विहिप फरीदाबाद पूर्व जिला के कार्याध्यक्ष गुलशन सिंघल ने कहा कि जिहादी द्वारा हत्या करने के बाद एक वीडियो जारी किया गया, जिसमें भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धमकी देकर देश की संप्रभुता को चुनौती दी है। इस घटना से सम्पूर्ण हिन्दू समाज आहत है। पिछले कुछ वर्षों से राजस्थान के हिन्दू समाज को षड्यंत्र पूर्वक आतंकित व प्रताड़ित किया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि इस्लामिक आतंकियों को राज्य सरकार का खुला समर्थन प्राप्त है। राजस्थान में योजनापूर्वक हिन्दुओं पर हमले किये जा रहे हैं। रामनवमी पर भी यात्रा पर पथराव हुआ। हनूमान जन्मोत्सव पर भी शोभायात्रा पर पथराव हुआ। विश्व हिन्दू परिषद मांग करती है कि कन्हैया लाल हत्याकांड कि सीबीआई जांच करवा के हत्यारों को मृत्युदंड दिया जाए। इस मौके पर संपर्क प्रमुख कालीदास गर्ग, विहिप फरीदाबाद विभाग अध्यक्ष प्रेम गोयल, विहिप विभाग संगठन मंत्री साहिल वालिया, निवर्तमान उप महापौर, मनमोहन गर्ग, वरिष्ठ उपमहापौर देवेंद्र चौधरी, राज कुमार शर्मा, अनिल नागर, अनिल गोयल, मुनि राज भाम्बरी, रेनु अग्रवाल, अजीत नम्बरदार, मनीष राघव, अमित कालरा, संदीप शर्मा, सतपाल सिंह, आशीष अरोड़ा, छत्रपाल, वरिष्ठ अधिवक्ता राजकुमार शर्मा, ओ पी शर्मा, लल्लन यादव, राजसिंह, राजीव झा, देवी मौर्य, पंकज, रामपाल, विमल खंडेलवाल, राजेश माहेश्वरी, रजनी गुलाटी आदि उपस्थित रहे। बल्लभगढ़ के प्रदर्शन में रमेश भारद्वाज, टीपरचंद शर्मा, दीपक यादव, राकेश गुर्जर, सुखबीर मलेरना, गोपाल शर्मा, अरुण दिवेदी, योगेश शर्मा, डॉ चंद्रशेखर, राजेंद्र जैन, कुशलपाल, संजय, विजय पाल, राजेंद्र, लक्ष्मण, अवधेश आदि उपस्थित रहे।