हरियाणा CM का दावा- भगवंत मान ने न्यू चंडीगढ़ में हाईकोर्ट मांगा

हाईकोर्ट को लेकर सियासी घमासान शुरू हो गया है। यह मुद्दा हरियाणा के CM मनोहर लाल खट्‌टर के किए एक दावे के बाद उठा। इसमें उन्होंने कहा कि CM भगवंत मान ने पंजाब के लिए न्यू चंडीगढ़ में अलग हाईकोर्ट की मांग की है। इस पर कांग्रेस विधायक दल नेता प्रताप सिंह बाजवा ने स्पष्टीकरण मांगा है। हालांकि आम आदमी पार्टी या CM भगवंत मान की तरफ से अब तक इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है।

हरियाणा के CM मनोहर लाल खट्‌टर ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को एक लेटर भेजा। इसमें कहा गया कि 30 अप्रैल को कॉन्फ्रेंस हुई थी। इसमें हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस के सामने सीएम भगवंत मान ने न्यू चंडीगढ़ में अलग हाईकोर्ट की मांग की। न्यू चंडीगढ़ पंजाब के अधीन आता है। उन्होंने कहा कि यह सही वक्त है, जब पंजाब और हरियाणा के लिए अलग-अलग हाईकोर्ट बनाया जाए। विधानसभा में नेता विपक्ष कांग्रेस MLA प्रताप सिंह बाजवा ने कहा कि भगवंत मान स्पष्ट करें कि क्या वाकई उन्होंने न्यू चंडीगढ़ में पंजाब के लिए हाईकोर्ट बनाने की बात कही है। अगर ऐसा है तो यह पंजाब के हितों के खिलाफ है। मौजूदा हाईकोर्ट बिल्डिंग ही पंजाब को दी जानी चाहिए। चंडीगढ़ शुरुआत में पंजाब की ही राजधानी बना था। पंजाब का हाईकोर्ट चंडीगढ़ क्यों छोड़ेगा? इससे चंडीगढ़ पर भी पंजाब का हक कमजोर पड़ेगा।