एक लाख रुपये प्रति किलो बिकी असम की चाय

भारत में अधिकांश परिवारों के दी की शुरुआत एक कप चाय के साथ होती है। यही वजह है कि यह हमारे जीवन का हिस्सा बन गया है। चौराहों की चर्चा से लेकर बड़ी-बड़ी मीटिंग में भी जो एक चीज हर जगह है वो है चाय। लेकिन क्या इस चाय का लिए कोई एक लाख रुपये भी खर्च करने को तैयार है? भले ही आपको यह आश्चर्यजनक लग रहा हो, लेकिन यह सच है कि चाय का मुरीद लोग लाख रुपये भी खर्च के लिए तैयार हैं। असम के गोलाघाट जिले की दुर्लभ किस्म की जैविक चाय पाभोजन गोल्ड टी को जोरहाट के एक नीलामी केंद्र में एक लाख रुपये प्रति किलोग्राम की दर से बिकी, जो इस साल की सबसे अधिक कीमत है। जोरहाट चाय नीलामी केन्द्र के एक अधिकारी ने कहा कि पाभोजन ऑर्गेनिक टी एस्टेट द्वारा बेची गई चाय को असम स्थित चाय ब्रांड एसा टी ने खरीदा था।