ताकि ERCP नेशनल प्रोजेक्ट बने और जनता को पानी मिले

अलवर: ERCP (पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना) को राष्ट्रीय परियोजना घोषित कराने पर केंद्र व राज्य सरकार के बीच जमकर राजनीति जारी है। अब 10 जुलाई को दौसा हाईकोर्ट परिसर में 13 राज्यों के लोगों की आमसभा होगी। जिसमें केंद्रीय जल संसाधन मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत व राज्यसभा सांसद किरोड़ीमल मीणा जनता के बीच सरकार के मन की बात रखेंगे। इसके लिए अलवर, दौसा, करौली, बांदीकुई सहित आसपास के जिलों के अधिक लोगों के पहुंचने की संभावना है। यहां के लोगों से राज्यसभा सांसद किरोड़ीमल मीणा बराबर संपर्क करने में लगे हैं।केंद्र अपने अुनसार चाह रहाकेंद्र सरकार के नेता बार-बार गहलोत सरकार को दोषी ठहरा रहे हैं। उनका कहना है कि राज्य सरकार नियम के अनुसाार ईआरसीपी को फाइन नहीं कर रही। इस कारण केंद्र की ओर से राष्ट्रीय परियोजना घोषित नहीं किया जा सका है। मतलब राज्य सरकार जानबूझकर इस योजना को अटकाए हुए हैं। नियम के अनुसार केंद्र इस प्रोजेक्ट को केंद्र के पास भेजे तो राष्ट्रीय परियोजना घोषित किया जा सकता है।पूर्व राजस्थान के लोगों से अपीलअब सांसद किरोड़ी लाल मीणा पूर्वी राजस्थान के 13 जिलों के लोगों से दौसा आने की अपील करने में लगे हैं। उनका कहना है कि ERCP को राष्ट्रीय प्रोजेक्ट घोषित करवाने में राज्य सरकार के स्तर पर मौजूद खामियों को दुरुस्त कराना है। इसकी जानकारी भी आमजन तक पहुंचानी है। ताकि जनता को असलियत मालूम चल सके। ताकि राज्य सरकार केंद्रीय जल आयोग की आपत्तियों को पूरा कर केंद्र को भेजे। तभी इस योजना को राष्ट्रीय परियोजना घोषित किया जा सकेगा।