हरियाणा चुनाव: CM खट्टर के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे BSF के पूर्व जवान तेज बहादुर

रेवाड़ी: हरियाणा की 14वीं विधानसभा चुनाव की तारीखों का एलान होने के साथ ही अब सियासी पारा तूल पकड़ने लगा है। बीएसएफ में खराब खाने का वीडियो वायरल कर सुर्ख़ियों में आये पूर्व जवान तेज बहादुर ने भी हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खटटर के खिलाफ चुनाव लड़ने की घोषणा करने से चुनावी गलियारों में हलचल तेज हो गई है।

तेज बहादुर ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ 2019 लोकसभा चुनाव में समाज वादी पार्टी की टिकट पर वाराणसी सीट से नॉमिनेशन दाखिल किया जहा उसे अयोग्य करार दिया गया। अब हरियाणा के चुनाव की घोषणा के बाद से ही पूर्व जवान तेज बहादुर यादव ने सीएम मनोहर लाल खटटर के खिलाफ विधानसभा चुनाव लड़ने का एलान किया है। तेज बहादुर ने बताया की उन्हें तमाम पार्टियों का समर्थन भी मिला रहा है।

आपको बता दें की पूर्व बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले के गांव राता कला का रहने वाला है। तेज बहादुर 10वीं परीक्षा पास करने के बाद 21 वर्ष की आयु में बीएसएफ में भर्ती हुए थे। तेज बहादुर ने भी ख़राब खाने की वीडियो बनाकर वायरल की थी जो देश-विदेश की सुर्खिया बनी थी। सेना का अपमान व अंदरूनी बातों को लीक करने का दोषी सेना की कोर्ट ने मानते हुए जवान तेज बहादुर को अप्रेल 2017 में बीएसएफ से बर्खास्त कर बाहर का रास्ता दिखा दिया। इससे आहत उसके दो वर्ष बाद जनवरी 2019 में उसके 19 वर्षीय बेटे रोहित यादव ने अपने पिता तेज बहादुर की लाइसेंसी रिवॉल्वर से आत्महत्या कर ली। पूर्व जवान तेज बहादुर की धर्मपत्नी शर्मिला यादव पति को नौकरी से निकले जाने के बाद एक निजी कंपनी में जॉब कर अपना घर चला रही है।