कांग्रेस का सवाल- दिनभर चलने के बाद 99 फीसदी चार्ज कैसे रहीं EVM की बैटरियां?

भोपाल: लोकसभा चुनाव के बाद कांग्रेस ने आखिरकार ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल उठा दिए हैं। हालांकि इस बार ईवीएम में मतों की गड़बड़ी के आरोप नहीं लगाए हैं, बल्कि ईवीएम की बैटरी पर सवाल उठाए हैं। इस संबंध में प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता जेपी धनोपिया ने मुख्य चुनाव आयुक्त से मतगणना के दिन ईवीएम की बैटरियां आश्चर्यजनक रूप से 90 से 99 प्रतिशत चार्ज रहने के कारणों को पता लगाकर वस्तुस्थिति सार्वजनिक करने का आग्रह किया है।

धनोपिया ने आयोग को भेजे पत्र में उल्लेख किया है कि दिन भर मतदान के लिये उपयोग होने वाली ईवीएम की बैटरियां 25 दिन बाद भी मतगणना के दिन 90 से 99 प्रतिशत तक कैसे चार्ज रह सकती हैं? यह व्यवहारिक रूप से भी सत्य प्रतीत नहीं होता कि इतने दिनों तक ईवीएम की बैटरी डिस्चार्ज न हुई हों। उन्होंने आशंका जताई है कि कहीं ऐसा तो नहीं कि ईवीएम में छेड़छाड़ कर उनकी बैटरियां बदल दी गई हों। यह शिकायत कांगे्रस प्रत्याशियों के अभिकर्ताओं द्वारा पार्टी स्तर पर की गई है।

मध्यप्रदेश में विगत 29 अप्रैल, 6, 12 और 19 मई को मतदान हुआ। मतदान दिवस को ईवीएम में फुल चार्ज बैटरियां लगायी गई थी। मतदान के समय बैटरियों से संचालित इन मशीनों का उपयोग दिन भर किया गया। इस दौरान बैटरी कंज्यूम्ड हुई। पांच से 20 दिनों तक ईवीएम में बैटरियां लगी रहीं। लेकिन आश्चर्य है कि मतगणना दिवस को जानकारी लेने पर बहुतायत ईवीएम की बैटरियां 90 से 99 प्रतिशत तक चार्ज पायी गयीं जो आश्चर्यजनक होने के साथ-साथ संदेहास्पद भी है। कांगे्रस ने आयोग से जांच कर वस्तुस्थिति सार्वजनिक करने का आग्रह किया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.