दिग्विजय सिंह की जीत के लिए मिर्ची हवन करने वाले महामंडलेश्वर हुए अखाड़े से बाहर

भोपाल: एमपी की भोपाल लोकसभा सीट से दिग्विजय सिंह की हार के बाद जिंदा समाधि लेने की बात करने वाले वाले बाबा महामंडलेश्वर वैराज्ञानंद गिरी के ऊपर आफत आ गई है। दरअसल बाबा को उनके अखाड़े ने बदनामी के कारण अखाड़े ने बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

दिग्विजय सिंह की जीत का किया था दावा 
दरअसल स्वामी वैराग्यानंद उर्फ मिर्ची बाबा ने मिर्ची हवन कर कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और भोपाल लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने वाले दिग्विजय सिंह की जीत का दावा किया था। उन्होंने कहा था कि मिर्ची हवन करने से दिग्विजय सिंह की जीत सुनिश्चित होगी। इस हवन में कुल 5 क्विंटल मिर्च डाली गई थी। साथ ही यह संकल्प भी लिया था कि अगर दिग्विजय सिंह नहीं जीते, तो वो जिंदा जल समाधि ले लेंगे।

चुनाव परिणाम आने के बाद दिग्विजय सिंह को भोपाल करारी हार मिली है। लोकसभा चुनाव का नतीजा आने के बाद लोग लगातार उनकी तलाश कर रहे हैं, लेकिन, बाबा से किसी का संपर्क नहीं हो पा रहा है. कई लोगों ने महामंडलेश्वर वैराग्यानंद का मोबाइल नंबर तक ढूंढ लिया है और लोग उन्हें फोन कर रहे हैं,  साथ ही पूछ रहे हैं कि बाबाजी अब समाधि कब लेंगे। वहीं हरिद्वार के निरंजनी अखाड़े के सचिव रविंद्र पूरी के मुताबिक निरंजनी अखाड़े के महामंडलेश्वर वैराज्ञानंद गिरी को बदनामी उनके अखाड़े ने बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.